World Happiness Report 2021: दुनिया के सबसे खुशहाल देशों की लिस्ट में भारत का स्थान कहां है?

साल 2020 को कोरोना महामारी ने पूरी तरह ले डूबा. जब पूरी दुनिया में कोरोना वायरस को रोकने के लिए लॉकडाउन लगा था तब लोगों ने डिप्रेशन,एन्जाइटी, अकेलापन,भुख जैसी समस्याओं का सामना किया. लेकिन बावजूद इसके महामारी का ये स्तर भी लोगों की उम्मीद और उत्साह को हिला नहीं पाया. वर्ल्ड हैप्पीनेस रिपोर्ट 2021 के मुताबिक, कई देशों में कोरोना से तबाही के बावजूद भी लोगों की खुशहाल जिंदगी बहुत ज्यादा प्रभावित नहीं हुई .

World Happiness Report 2021: These Are The 10 Happiest Countries

149 देशों की ये वार्षिक रिपोर्ट प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद, हेल्दी लाइफ एक्सपेक्टेंसी और नागरिकों की राय पर आधारित है. इस रिपोर्ट में लोगों से 1-10 के स्केल पर कुछ सवाल पूछे गए थे. जैसे विपरीत परिस्थितियों में उन्हें कितना सोशल सपोर्ट मिला और उनके अनुसार, लोग कितने भ्रष्ट और कितने उदार हैं. इस सर्वे में लोगों से दो अलग-अलग तरह के सवाल किए गए थे. एक सवाल उनके सामान्य जीवन से जुड़ा था. जबकि दूसरा सवाल मूड, इमोशन, स्ट्रेस और एन्जाइटी से संबंधित था.

दुनिया के सबसे खुशहाल देशों की इस लिस्ट में पहले नौ नंबर पर यूरोपिय देश है. इस रिपोर्ट में पहले नंबर पर देश फिनलैंड है. यानी इस रिपोर्ट के मुताबिक, फिनलैंड दुनिया का सबसे खुशहाल देश है. जबकि दूसरे पर डेनमार्क, तीसरे पर स्विट्जरैंड, चौथे पर आइसलैंड, पांचवें पर नीदरलैंड, छठे पर आइसलैंड, सातवें पर नॉर्वे, आठवें पर स्वीडन, नौवें पर लग्जमबर्ग, दंसवे पर न्यूजीलैंड का नंबर आता है. न्यूजीलैंड अकेला गैर-यूरोपियन देश है जिसने दुनिया के सबसे खुशहाल देशों की लिस्ट में टॉप-10 में जगह बनाई है.First-ever annual 'India Happiness Report' released; Mizoram, Punjab,  Andaman and Nicobar Islands top index

 

बता दें कि फिनलैंड लगातार चौथी बार से ‘वर्ल्ड हैप्पीनेस रिपोर्ट’ में पहले स्थान पर है. वहीं संयुक्त राज्य अमेरिका 18वें पायदान से फिसलकर 19वें स्थान पर चला गया है. जबकि कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित ब्रिटेन में लिस्ट में 17वें स्थान पर है. भारत की बात करें तो 149 देशों की इस लिस्ट में भारत 139वें स्थान पर है. साल 2019 में भारत इस लिस्ट में 140वें पायदान पर था यानी देश को केवल एक पायदान की बढ़त मिली है. पाकिस्तान इस लिस्ट में भारत से 34 पायदान आगे 105वें स्थान पर है. जबकि नेपाल 87वें, बांग्लादेश 101, म्यांमार 126 और श्रीलंका 129वें स्थान पर है. यानी इस रिपोर्ट के मुताबिक, भारत के पड़ोसी देशों की स्थिति भारत से काफी अच्छी है. इस लिस्ट में जो देश सबसे आगे है उनमें लोगों ने ज्यादा बेहतर और सुरक्षित महसूस किया.