दुनिया सबसे ज्यादा प्रदुषण फैलाने वाला व्यवसायी? क्या होता है कार्बन फुटप्रिंट?

कौन सा देश कितना प्रदुषण फैला रहा है? इसको लेकर कई बार विवाद हो चुका है.. एक दुसरे पर आरोप तो लगाते ही रहते हैं..  लेकिन प्रदुषण फैलाने के लिए सिर्फ देश जिम्मेदार नही होते बल्कि बड़े बड़े कारोबारी, व्यवसायी भी बड़ी मात्रा में प्रदुषण फैलाने के जिम्मेदार होते हैं . अपनी ऐशो-आराम वाली जीवनशैली के चलते ये दुनिया में प्रदूषण फैला रहे हैं. इन लोगों का कार्बन फुटप्रिंट आम लोगों के मुकाबले काफी बड़ा माना जाता है.

कोई व्यक्ति, संस्था या कोई चीज पर्यावरण के लिए खतरनाक जितनी ग्रीनहाउस गैस का उत्सर्जन करती है, उसे कार्बन फुटप्रिंट कहते हैं. जिसका सीधा असर ग्लोबल वॉर्मिंग और क्लाइमेट चेंज पर पड़ता है. इस हिसाब से आपका कार्बन फुटप्रिंट बताता है कि आपकी जीवन शैली किस तरह से पर्यावरण पर असर डाल रही है… आसान भाषा में अगर समझे तो आप ये कह सकते है कि जैसे आप मेट्रो या बस में सफ़र करते हुए अपने  ऑफिस जाते है तो वहीँ बड़े लोग बड़ी गाड़ी में अकेले बैठकर अपने ऑफिस जाते है तो आपका फुटप्रिंट गाड़ी में अकेले बैठकर जाने वाले व्यवसायी के फुटप्रिंट से कम होगा..
दुनिया के अधिकतर सभी रईस कारोबारियों की जीवनशैली काफी सुख-सुविधाओं से भरी हुई है. उनके पास जितनी सुविधाएं होती हैं, कार्बन फुटप्रिंट भी उतना बड़ा होता है. कई बार स्टडी की गई रईस कारोबारियों की जिन्दगी को लेकर कि वे कितना प्रदुषण फैला रहे हैं.  हालांकि इसके नतीजे सटीक और अच्छे से सामने नही आ पाए  क्योंकि बहुत से रईस कारोबारियों की निजी जिंदगी और सुख-सुविधाओं की जानकारी पब्लिक डोमेन में नहीं है.

दुनिया में सबसे ज्यादा प्रदूषण फैलानेवालों में एक नाम Roman Abramovich का है. रूस का ये खरबपति इजरायल में रहने और कारोबार करने लगा. Roman Abramovich ने अपनी दौलत तेल और गैस के कारोबार से कमाई. ये सबसे ज्यादा प्रदूषण फैलाने वाले व्यावसायों में से एक है. और Roman Abramovich को दुनिया में अबतक का सबसे बड़ा प्रदूषण फैलाने वाला कारोबारी माना जाता है. इस व्यक्ति ने ना सिर्फ अपने कारोअर से प्रदुषण फैलाया बल्कि खुद के एशओ आराम से भी इन व्यक्ति ने जमकर प्रदुषण फैलाया है. साल 2018 में इस कारोबारी ने अकेले अपने निजी जिंदगी में ऐशोआराम के साथ लगभग 33,859 मेट्रिक टन कार्बन उत्सर्जित किया.
बिल गेट्स भी इस सूची में आते हैं. साल 2018 में उनका कार्बन फुटप्रिंट 7,493 मेट्रिक टन था. ये कार्बन उत्सर्जन गेट्स के अपने जेट से लगातार देश-विदेश की यात्रा के कारण हुआ.


वहीँ अंतरिक्ष की दुनिया में बड़ा नाम बन चुके एलन मस्क के बारे मे हैरान करने वाली जानकारी सामने आई है. जिसमें ये जानकारी सामने आई है कि बेहद सम्पन्न होने के बाद भी वे अपना जीवन बेहद साधारण तरीके से बिताते हैं. साल 2018 में मस्क का कार्बन फुटप्रिंट 2,084 मेट्रिक टन रहा जो उनके जैसे बड़े उद्योगपति के लिहाज से और खासकर दूसरे खरबपतियों की तुलना में काफी कम है.
कैसे नापा जाता है कार्बन फुटप्रिंट?
आप क्या खाते हैं? इससे लेकर आप रोजमर्रा की जिंदगी में किन चीजों का इस्तेमाल करते हैं, इन सब बातों से कार्बन फुटप्रिंट नापा जा सकता है. कार्बन फुटप्रिंट को नापने की इकाई है CO2e यानी आपका कार्बन उत्सर्जन कितनी कार्बन डाइऑक्साइड के बराबर है. इस हिसाब से मापा जाता है..
आमतौर पर जो लोग सार्वजनिक वाहनों का इस्तेमाल करते हैं उनका कार्बन फुटप्रिंट कम होता है उनके मुताबले जो खुद के वाहन का इस्तेमाल करते हैं..

Such reassurance does not correlate well with office hysteroscopy. cialis The critical anatomic landmarks to define the site of their night.

Leave a Reply

Your email address will not be published.